पत्नियों के वो 7 राज जो पति कभी नहीं जान पाते।

wife secrets

कहते हैं कि औरतों के मन की बात तो भगवान के लिए भी समझना मुश्किल होता है। फिर इंसान कैसे समझ पायेगा।

आइये जानते हैं पत्नियो के मन की वो बातें जो कभी कोई पत्नी अपने पति को नही बताती।

  1. पत्नियों के पास थोड़े थोड़े पैसे जोड़कर इकट्ठा की गई पूँजी या पैसे होते हैं। जिनके बारे में पत्नियां कभी पति को नहीं बताती। अगर पति पूछे कि उनके पास कुछ पैसे हैं क्या तो वो पैसों की सही संख्या नहीं बताती। हालांकि किसी भी इमरजेंसी में वो इन पैसों को खर्च करने में भी पीछे नहीं हटती।
  2. औरतों के मन में उनके किसी पूर्व प्रेमी के लिए सॉफ्ट कॉर्नर होता है। कभी पति से झगड़ा होने की स्थिति में उनके मन में अपने पहले प्यार या किसी व्यक्ति की याद पनपती है। उसमें कई बार वो ये भी सोचती हैं कि अगर उनकी शादी उस व्यक्ति से होती तो वो शायद ज्यादा खुश रहती । पत्नियां ऐसे किसी व्यक्ति की बात पति से कभी शेयर नहीं करती।
  3. अक्सर पति द्वारा बताई गई कोई खास राज की बात पत्नियां अपनी किसी खास सहेली को बता देती हैं। पर वो अपने पति को कभी नहीं बताती कि उन्होंने वो राज की बात अपनी सहेली को बता दी है।
  4. शारिरिक संबंध बनाने के दौरान पत्नी को कैसा लगा ये बात भी पत्नियों को पति से शेयर करना पसंद नही आता।
  5. पत्नियां कई बार अपनी कई छोटी मोटी बीमारियों के बारे में पति को नही बताती । उन्हें लगता है उनका पति बेवज़ह परेशान होगा ये सोच कर वो अपनी किसी बीमारी को छुपाती रहती हैं।
  6. पति पत्नि के बीच में कई बार कई बातों की सहमति नही हो पाती ।ऐसे में कई बार लड़ाई झगड़े से बचने के लिए पति की कुछ बातों पर सहमति जताती रहती है भले ही वो सच में उस बात को स्वीकार नही करती।
  7. वैसे तो पत्नियां बाहर के लोगों से हमेशा अपने पति की तारीफ ही करती हैं। उन्हें किसी के सामने ये प्रकट करना अच्छा नही लगता कि वो पति की किसी बात से दुखी हैं। पर फिर बहुत दुःखी होने पर पत्नियां अपनी किसी खास सहेली या अपनी माँ को पति की पसंद ना आने वाली कुछ बाते बताती हैं जिनके बारे में वो अपने पति को कभी नही बताती।

उम्मीद करता हूँ आपको ये पॉइंट्स अच्छे लगे होंगे। आपको कुछ ऐसे सीक्रेट पत्नियों के बारे में पता हैं तो कमेंट करें।

1 thought on “पत्नियों के वो 7 राज जो पति कभी नहीं जान पाते।”

Leave a Comment

Your email address will not be published.