इन्द्र धनुष कैसे और क्यों बनता है?

rainbow

इंद्र धनुष कैसे बनता है?

इन्द्र धनुष सूर्य के प्रकाश के अपवर्तन के कारण बनता है। जब सूर्य का प्रकाश बारिश की बूंदों से हो कर गुजरता है तो एक खास ऐंगल की वजह से बूँदे प्रिज्म की तरह काम करने लगती हैं। जिससे सूर्य का प्रकाश इसके मूल घटक 7 रंगो में टूट जाता है। यही 7 रंग इन्द्र धनुष का निर्माण करते हैं।

प्रिज्म क्या होता है?

Prism

सामन्य रूप से प्रिज्म 2 समतल तिकोनी और 3 समतल आयताकार पारदरसी संरचना होती है जो सूर्य के प्रकाश को विछेपित करने के लिए इस्तेमाल की जाती है।

इन्द्र धनुष हमेशा बारिस के बाद ही क्यों बनता है?

बारिश के बाद आसमान में बारिश की बूंदें नमी के रूप में बनी रहती हैं। जो कि संयुक्त होकर आकाश में बूंदो को प्रिज्म जैसा घटक का स्वरूप देती हैं जिनसे प्रकाश का अपवर्तन होता है। इसलिए बारिश के बाद ही इन्द्र धनुष दिखता है

इन्द्र धनुष सूर्य के विपरीत दिशा में ही क्यो बनता है?

Rainbow

क्योंकि बूंदों से अपवर्तित होकर सूर्य की किरणें सूर्य की दुसरी तरफ 7 रंगो में निकलती हैं इसलिए इन्द्र धनुष हमेशा सूर्य की विपरीत दिशा में ही बनता है

Leave a Comment

Your email address will not be published.