योगी के ब्राह्मण विरोधी होने का सही विश्लेषण.

ये पोस्ट हमारे ब्राह्मण समाज को समर्पित है जो पुलिस Encounter में मारे गए कुछ गैंगस्टर, जो कि जाति से ब्राह्मण थे, से आहत हैं या उन्हे योगी पुलिस के तरीके से कुछ परेशानी हुई है.

दोस्तों हमारा सनातन समाज वैसे ही कई कारणों से विभाजित रहा है और जिसकी वजह से लगातार हमारा पतन भी हुआ है. विधरमियों ने हमेशा इसका फायदा उठाया है और फिर हमने उन्हे एक मौका दे दिया. चलिए मुद्दे पर आते हैं.

दोस्तों अगर आप को लगता है कि योगी राज में ब्रह्मड़ों को टारगेट किया जा रहा है तो जरा बताओ CAA NRC के टाइम पे इस्लामिक कट्टर पंथीयो का योगी ने क्या हाल किया था याद है? 👏करीब 50 जेहादी को शूट करवा दिया था. सैकड़ों को जेल में बंद कर दिया. सैकड़ों की संपत्ति जब्त करा दी यहा तक की चौराहों पर पोस्टर तक लगवा दिए. हो सकता है उनमे कुछ निर्दोष ( संभावना कम है) हों.🤔

अपने कार्यकाल की शुरुआत में सैकड़ों Encounter कराए थे जिनमे सभी जाति धर्म के गुंडे थे. मुख्तार अंसारी, आज़म खान जैसों के भी प्रोपर्टी गिरवा दी और जेल में बंद करवा दिया. अभी हाल ही में कई यादव और गुप्ता गैंगस्टर के Encounter करवा दिए. अरे विकास दुबे शायद अपने ब्राह्मण होने के ही कारण अब तक बचा था. सन्यासी योगी ब्रह्म हत्या का पाप लेना नहीं चाहते होंगे.👍

और जिस विकास दुबे के ब्राह्मण होने की वजह से आप आहत हो उसने सबसे जादा ब्रह्मड़ों की ही हत्या की थी. और वो 12-15 साल ब्राह्मण विरोधी बसपा और 10 साल और वर्तमान में भी घोर हिंदू विरोधी सपा का नेता था. किस एंगल से आपके लिए वो ब्राह्मण था?

बड़ी मुस्किल से योगी जैसे नेता मिलते हैं. कृपया इस तरह के कैम्पेन चला के योगी के आत्मविस्वास को कमजोर ना करें 🙏. एक वही है जो इस्लामी कट्टरता का सही जवाव देना जानता है.

भूल गए आप? पूरे देश में कोरोना फैलाने वाले मौलाना साद का एक भी मुस्लिम ने विरोध नहीं किया. आप लोगों को ये Secularism का कीड़ा कैसे लग जाता है? 🤔

जो विकास के साथी मारे गए वो भागे क्यो? अगर वो अपराधी नहीं थे तो भागे क्यों? और आप भूल रहे हैं कि करीब 9-10 को जिंदा भी पकड़ा है उनका Encounter नहीं किया.

तो कृपया बात को समझे और योगी जी को अपना भरपूर समर्थन देते रहें 🙏

Leave a Comment

Your email address will not be published.